Breaking एटा

जमीनी विवाद में भेजा गया जेल,बाहर आने पर हत्या के मकशद से कर डाला मासूम का अपहरण परिजनों की शिकायत पर एटा की सतर्क पुलिस और क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम ने मासूम को सकुशल किया बरामद

 

एटा मामला जनपद के रिजोर थाना क्षेत्र का है ।जहां एक छः बर्षीय मासूम की बच्चे का अपरहण अपराधियों ने इस लिए कर लिया क्यों की मासूम बच्चे के परिजनों से आरोपी का कुछ दिन पूर्व जमीनी विवाद हो गया था।जिसमें परिजनों ने रिजोर पुलिस को लिखित शिकायत की थी।जिसमें आरोपी बिपिन बघेल को रिजोर पुलिस ने चालान कर जेल भेज दिया था।जेल से छूटने के बाद आरोपी बिपिन ने बदला लेने और हत्या के मकशद से ।छः बर्षीय मासूम निखिल का ट्यूबवेल पर खेलते समय अपहरण कर लिया।किडनैपर द्वारा घटना को अंजाम देने के बाद परिजनों को हत्या करने की धमकी भी दी जाने लगी।परिजनों ने काफी तलाशने के बाद रिजोर पुलिस को सूचना की पुलिस ने भी मामले की गंम्भीरता समझते हुए तत्काल मामला दर्ज करते हुए अपहर्ता और किडनैपर्स की तलाश शुरू कर दी।काफी मशक्कत के बाद क्राइम ब्रांच थाना पुलिस और सर्विलांश टीम के ज्वाइंट ऑपरेशन के बाद अपहर्ता मासूम निखिल को गिलोनदिया गांव के जंगल से बरामद किया गया।किडनैपर्स ने मासूम निखिल।के हाथ पांव बांध रखे थे और मुंह मे कपड़ा ढूंस दिया था।बही इस ऑपरेशन के दौरान पुलिस ने किडनैपर बिपिन को मय तमंचा कारतूस के गिरफ्तार कर लिया है ।आरोपी ने अपने जुर्म का इकबाल भी किया है।किडनैपर ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि उसने जेल भिजबाने का बदला लेने और मासूम बच्चे की हत्या करने के मकशद से अपहरण किया था।वहीं इस घटना के खुलासे और मासूम बच्चे की सकुशल बरामदगी की चारों और तारीफ की जा रही है।