Breaking उत्तर प्रदेश छतीसगढ़ देश – विदेश मध्यप्रदेश राजनीति राज्य लखनऊ

हरियाणा में पति को चारपाई से बांधकर पत्नी से गैंगरेप, भारत में हर दिन 88 रेप

नई दिल्ली। हरियाणा के यमुना नगर से महिला से गैंगरेप की घटना सामने आई है। यहां पांच वहशी दरिंदों ने एक ऐसी घटना को अंजाम दिया, जिसको सुनकर रोंगटे खड़े हो जाएं। जानकारी के अनुसार आरोपियों के महिला के पति को चारपाई से बांधकर महिला के साथ इस घटना को अंजाम दिया। जिसके बाद आरोपी पीड़िता को जुबान खोलने पर जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए।
पीड़िता मूल रूप से पड़ोसी देश नेपाल की रहने वाली बताई जा रही है, जो लंबे समय से यमुना नगर के एक क्षेत्र में रह रही थी। घटना के बाद से पीड़िता काफी सहमी हुई है। आरोप है कि पीड़िता रात को अपने पति के साथ सोई हुई थी, तभी वहां पहुंचे हथियारबंद पांच लोगों ने महिला को दबोच लिया। पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर पांचों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पीड़िता अपने पति के साथ एक किसान के यहां खेतों पर काम करती है

सभी आरोपियों को पहचानने का दावा

महिला के अनुसार आरोपी घटना को अंजाम देने के बाद उसके पति के मोबाइल का सिम भी निकाल कर ले गए। हालांकि महिला ने सामने आने पर सभी आरोपियों को पहचानने का दावा किया है। घटना के बाद पीड़िता के शोर मचाने पर इकठ्ठा हुए लोगों ने उसके पति को चारपाई से खोला। वहीं, घटना की सूचना पर पहुंचे मालिक ने लोगों को साथ लेकर आरोपियों की खोजबीन की, लेकिन उनका कोई पता नहीं चल पाया।

भारत में बलात्कार के हर दिन 88 मामले दर्ज

घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता को मेडिकल के लिए भिजवाते हुए मामले की छानबीन शुरू की है। पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल मामले में जांच चल रही है। पुलिस ने जल्द ही

आरोपियों को पकड़ने का दावा किया है।

वहीं, नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो

(NCRB) की रिपोर्ट के अनुसार
भारत में बलात्कार के हर दिन 88 मामले दर्ज होते हैं। जबकि 2018 में यह आंकड़ा औसतन 91 था। एनसीआरबी के आंकड़ों की मानें तो भारत में महिलाएं अभी भी सुरक्षित नहीं हैं।

 

– भारत में 2019 में हर दिन बलात्कार के 88 मामले दर्ज – साल 2019 में देश में बलात्कार के 32,033 मामले दर्ज

– 2019 में राजस्थान में करीब 6,000 रेप के मामले –
2019 में उत्तर प्रदेश में 3,065 बलात्कार के मामले – 2019 में दिल्ली में 1253 केस के साथ सबसे अधिक घटनाएं

– पिछले 10 वर्षों में बलात्कार का खतरा 44 फीसदी तक बढ़ा – 2010 से 2019 के बीच भारत में 3,13,289 बलात्कार दर्ज

– 2018 में दुष्कर्म के 33,356 मामले दर्ज किए गए -2018 में भारत में औसतन 89 दुष्कर्म रोजाना – 2017 में दुष्कर्म के 32,559 मामले दर्ज किए गए – 2016 के बलात्कार का यह आंकड़ा 38,947 था

– 2018 में 72.2 प्रतिशत पीड़िताओं की उम्र 18 साल से ज्यादा – 2018 में 27.8 प्रतिशत की उम्र 18 साल से कम थी