Breaking लखनऊ

राम जन्म भूमि देश के गर्व का मन्दिर है-चम्पत राय विश्व हिंदू परिषद का इतना ही योगदान है कि उसने हजारों संतो को इस आंदोलन से जोड़ दिया- चम्पत राय

लखनऊ। भगवान राम की कृपा से हजारों शान्तो से जुड़ गए और यह देशव्यापी बन गया विश्वव्यापी भी हो गया और जो गुलामी याद दिलाता था वह कलंक समाप्त हो गया- चम्पत राय

भारत के माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने वहां पधार कर 5 अगस्त को धरती पर बैठकर गर्भ ग्रह के स्थान पर पूजन करके मंदिर के निर्माण को गति प्रदान कर दी – चम्पत राय

भारत सहित संसार भर में फैला भारतीय समाज आनंद से भर गया उसकी अनुभूति आप भी करते होंगे पहले यह मंदिर हमने बहुत छोटा सा ही सोचा था कर दी तो मंदिर का भी कुछ आकार लंबाई चौड़ाई ऊंचाई बढ़ाई गई अब मंदिर की लंबाई लगभग 360 फीट रहेगी चौड़ाई 235 फीट रहेगी और यह मंदिर 3 मंजिला होगा हर एक मंजिल की ऊंचाई 20 फीट रहेगी ग्राउंड लेवल से भूतल से फर्स्ट लिंक लगभग साडे 16 फीट ऊंचा होगा और इस भूतल से शिखर की ऊंचाई 161 फिट हो जाएगी- चम्पत राय

सुरक्षा दीवार यह भी लगभग 5 एकड़ में बनेगी आपको सब मालूम है कि सारा मंदिर पत्थरों से बनने वाला है लगभग मंदिर मंदिर में ही 400000 क्यूबिक पत्थर लगेगा अयोध्या में मंदिर की जो तैयारियां 1990 से चली तो लगभग 70 से 75000 क्विंटल 90 से 26 के बाद फिर से उसकी लंबाई चौड़ाई ऊंचाई चल रहा है- चमप्त राय

लालपत्थरों का काम भी चल रहा है मंदिर के निर्माण ने भारत कंपनी माननीय अशोक सिंघल अधिकारियों को मिलने गए थे और कहा था आप जैसी कंपनी इसको बनाए उन्होंने स्वीकार किया था – चमपत राय

लुसेंट सरयू नदी का किनारा भविष्य में आ सकने वाले भूकंप अचानक अभी दिल्ली में आ गया रात तो इन सब बातों का विचार करके ऐसी न्यूज़ जिसका जिसकी आयु को शताब्दियों से आगे कहा जा सके पत्थरों की आयु के समक्ष पत्थर की आयु 1000 साल उतनी ही मजबूत और पत्थर का जो लोड होगा गर्भ ग्रह पर ऐसा लगता है लगभग 35 से 40 पर स्क्वायर मीटर आएगा तो 35 से 40 तक लोड करने वाली लगभग हो गया है बन रही है वह सब आ जाएंगे तैयार करेंगे- चम्पत राय

यह होमवर्क है होमवर्क कंप्लीट होने के बाद काम तेज गति से चलेगा- चम्पत राय

हमने नहीं लिखा है कहीं भी गम दान मांगने जाएंगे हमने लिखा है समाज के लिए कंट्रीब्यूट वालंटियर समाज से छह सेवर जी समर्पित करें जैसे आप भगवान के दर्शन करने मंदिर में जाते हैं तो मन्दिर में कुछ भी डाल आते हैं माताएं अपने गहने भी चलाते हैं जिसके पास जितना धन जेल में रहता है श्रद्धा भक्ति रहती है तो डाला आता है- चम्पत राय

मंदिर का चित्र जाना चाहिए इसलिए हर एक कूपन पर मंदिर का चित्र बनाया है यह कूपन पोस्टकार्ड साइज का है- च्म्पत राय

देश के घरों में अपना विचार अपना यह संदेश पहुंचाने के लिए हिंदुस्तान के लगभग 80 अखबारों के प्रत्येक एडिशन में एक विज्ञापन दिया गया है- च्म्पत राय

11 करोड़ घरो मे बात पहुचाने का ठाना है – च्म्पत राय

विदेशि मुद्रा से दान लेने के लिये कनून बना है सबका हम पालन करेंगे – चम्पत राय

सीएसआर कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी मेरा इतना ही कहना है कि सीएसआर के भी कुछ क्लास हैं कंपनियां बड़ी-बड़ी कंपनियां सीएसआर के अंतर्गत किस काम के लिए धन दे सकती हैं उसमें टेंपल नहीं है- चम्पत राय

मेरे से दिल्ली में मुंबई में पूछा गया सरकार जो पैसा लेंगे धार्मिक प्रधानमंत्री से लेंगे अपनी पॉकेट से दें आपकी जानकारी के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 25 मार्च को 1100000 रुपए का चेक अपने पर्सनल अकाउंट से दिया है पर्सनल अकाउंट पर उनके नाम लिखा हुआ है- चम्पत राय

हम अभियान शुरू करेंगे मकर संक्रांति को प्रदेश के सभी क्षेत्रों के बड़े-बड़े लोगों के पास जाएंगे दिल्ली में राष्ट्रपति महोदय उपराष्ट्रपति प्रधानमंत्री लोकसभा अध्यक्ष के बाद जाएंगे तो हमारे राज्यों के राज्यपाल मुख्यमंत्री पर जाएंगे ।

सहयोग सारे समाज का है आर्थिक विशेष में जोड़ा है तो यह विश्वास का विषय है राष्ट्रीय शिक्षक संघ विश्व हिंदू परिषद और हमारे भरोसे के काम कर रहे हैं मोहल्ले में रहता है जिस गांव में रहता है उसी गांव के कार्यकर्ताओं से संपर्क करें ।