Breaking उत्तर प्रदेश उत्तराखंड कानपुर गाज़ियाबाद गोरखपुर दिल्ली लखनऊ

UP में फिर बढ़ा कोरोना:दो दिन बाद अचानक नए मरीजों की संख्या में बड़ा उछाल, 24 घंटे में 2390 नए मरीज मिले, 30 संक्रमितों ने दम तोड़ा

राज्य में बीते 13 व 14 नवंबर को कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 2 हजार के पार मिली थी। इसके बाद दो दिन लगातार मरीज 15 सौ के करीब थे। लेकिन 18 नवंबर को अचानक फिर से संख्या बढ़ी है। वहीं, मौत की संख्या भी अचानक बढ़ी है।
  • अब तक राज्य में 94 फीसदी मरीज कोरोना को मात दे चुके
  • 22 हजार एक्टिव मरीजों का चल रहा इलाज, अब तक पांच लाख से अधिक मिल चुके हैं मरीज

    उत्तर प्रदेश में एक बार फिर कोरोनावायरस का आंकड़ा बढ़ने लगा है। बीते 24 घंटे (18 नवंबर) में गुरुवार को 2,390 नए मरीज सामने आए। बीते दो दिनों से 15,00 के आस-पास नए मरीज मिल रहे थे। हालांकि 2,529 मरीज ठीक भी हुए। 30 संक्रमितों की मौत हुई है। इसी के साथ प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या 5,09,175 पहुंच गई है। अब तक 94 फीसदी मरीज ठीक हो चुके हैं। महज 22 हजार एक्टिव केस हैं। राज्य में 7,441 मरीजों की मौत हो चुकी है। लेकिन अचानक मरीजों की संख्या बढ़ने से स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है।

    बीते पांच दिनों में इस तरफ बढ़ा मरीजों का ग्राफ

    बीते 13 व 14 नवंबर को कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 2 हजार के पार मिली थी। इसके बाद दो दिन लगातार मरीज 15 सौ के करीब थे। लेकिन 18 नवंबर को अचानक फिर से संख्या बढ़ी है। वहीं, मौत की संख्या भी अचानक बढ़ी है। विशेषज्ञ इसके पीछे त्यौहार पर बरती गई लापरवाही बता रहे हैं।

    तारीख नए मरीज डिस्चार्ज हुए मौत
    17 नवंबर 1455 1838 20
    16 नवंबर 1573 1889 21
    15 नवंबर 1407 1783 18
    14 नवंबर 2361 2002 29
    13 नवंबर 2183 2005 25

    लखनऊ में कोरोना के हालात

    राजधानी में एक बार फिर से 10 दिन बाद कोरोना संक्रमितों की संख्या दो से तीन सौ के बीच का आंकड़ा छू रही है। डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम यूनिवर्सिटी (AKTU) के सात कर्मचारी समेत 294 नए मरीजों में कोरोना की पुष्टि की गई, जबकि 363 मरीजों ने कोरोना को मात दी। इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने कोरोना वायरस के सम्बन्ध में सर्विलान्स एवं कांटेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर 7,962 लोगों के सैंपल लिए हैं। कुलपति ने AKTU को अगले दो दिन 19 और 20 नवंबर तक बंद करने के आदेश दिए हैं।

    मुख्य चिकित्साधिकारी के प्रवक्ता योगेश रघुवंशी ने बताया कि कोविड प्रोटोकाल के तहत 105 रोगियों को हॉस्पिटल का आवंटन किया गया। जिसमें से देर शाम तक 58 रोगियों को हास्पिटल में भर्ती कराया जा चुका है। शेष 47 रोगियों ने होम आइसोलेशन का विकल्प चुना। अभी तक कुल होम आइसोलेशन रोगियों की संख्या 50,740 है। होम आइसोलेशन पूरा करने वाले 48,795 और सक्रिय होम आइसोलेशन में 1,945 रोगियों का उपचार चल रहा है। कोविड–19 कंट्रोल रूम से होम आइसोलेशन के 1,806 मरीजों से फोन के माध्यम से उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली गयी। इसके साथ ही कोविड–19 कंट्रोल रूम में हेलो डॉक्टर सेवा में 115 मरीजों द्वारा स्वास्थ संबंधी परामर्श लिया गया।

    संक्रमण से पांच की मौत

    कोरोना संक्रमण से राजधानी में पांच मरीजों की इलाज के दौरान मौत हो गई। इनमें दो लखनऊ जबकि तीन गैर जनपदों के मरीज हैं। गैर जनपदों में सीतापुर‚ बाराबंकी और महाराजगंज के एक-एक मरीज की मौत हो गयी।